Image Image Image Image Image Image Image Image Image Image

| November 23, 2017

Scroll to top

Top

No Comments

बिहारी क्रिकेटरों की अब राह होगी आसान, नहीं रहना होगा दूसरे राज्य के भरोसे

बिहारी क्रिकेटरों की अब राह होगी आसान, नहीं रहना होगा दूसरे राज्य के भरोसे
0 Flares Twitter 0 Facebook 0 Google+ 0 Pin It Share 0 StumbleUpon 0 0 Flares ×

माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद लोढ़ा कमिटी की सिफारिशों को लागू कर दिया गया है! बीसीसीआई के वेबसाइट पर नया संविधान अपलोड कर दिया गया है। बीसीसीआई ने अब बिहार क्रिकेट एसोसिएशन को पूर्ण मान्यता दे दी है। बीसीसीआई की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि हर राज्य का प्रतिनिधित्व बीसीसीआई द्वारा मान्यता प्राप्त संघ ही करेगी और यह संघ बोर्ड की पूर्ण सदस्य होगी। किसी भी समय एक राज्य से एक से ज्यादा संघ बोर्ड की पूर्ण सदस्यता की हकदार नहीं होंगी। पहले एक राज्य में अगर एक से ज्यादा क्रिकेट अस्सोसिएशन है तो ओ अलग अलग वोट करते थे लेकिन नए नियम से एक राज्य को केबल एक वोट का अधिकार होगा!

बिहार क्रिकेट एसोसिएशन को पूर्ण मान्यता दिलाने में सबसे बड़ा हाथ आदित्य वर्मा का है, उन्होंने इसके लिए एक लंबी लदे लड़ी है, जिसके फलस्वरूप बिहार के क्रिकेट खिलाड़ियों के लिए अच्छे दिन आये है!

घोषणा बाद बिहार के खिलाड़ियों का रणजी ट्रॉफी समते कई बड़े टूर्नामेंटों में खेलने का रास्ता साफ हो गया है। 16 साल पहले बिहार क्रिकेट एसोसिएशन की मान्यता समाप्त कर दी गई थी जिसके कारण बिहार के क्रिकेट खिलाड़ियों को दूसरे राज्य पे निर्भर रहना परत था! इशान किशन और अनुकूल राय को पड़ोसी राज्य झारखण्ड का रुख करना परा! इशान किशन अंडर 19 वर्ल्ड कप में टीम की कमान संभाली थी और फाइनल तक ले के गए थे! अनुकूल राय ने इंग्लैंड के खिलाफ देश की अंडर-19 टीम में अपनी जगह बनाई थी। ईशान किशन घरेलु सीरीज में अच्छा प्रदर्शन कर रहे है, उम्मीद है उसने जल्द ही टीम इंडिया का हिस्सा बनने का मौका मिलेगा!

Your Comments